संतोष त्रिवेदी ने तेताला पर चर्चाभार बखूबी संभाला : हिंदी चिट्ठाजगत हुआ मतवाला

Posted on
  • by
  • अविनाश वाचस्पति
  • in
  • Labels: , , ,
  • पहचानें हर दिल अज़ीज कुलवंत हैप्‍पी को 

    जी हां
    आप परिचित हैं
    जिनका नाम है
    संतोष त्रिवेदी
    पर उन्‍हें संतोष नहीं है
    अच्‍छा रचे बिना
    सच्‍चा रचे बिना

    वे विविध रंगी प्रयोग करने में रखते हैं यकीन
    न हो विश्‍वास
    तो क्लिक करें तेताला की नई पोस्‍ट

    फलक ,राहुल और ग़ालिब !

    और मान लें
    स्‍वीकार लें
    जैसा कि उपर्युक्‍त पोस्‍ट पर
    अब तक 80 से ऊपर हिट्स
    बतला रहे हैं

    तेताला पर चर्चा को
    ऊंचाईयां देने में
    वंदना गुप्‍ता जी
    और 
    संगीता स्‍वरूप जी का
    अप्रतिम योगदान है
    उन्‍होंने ऊंचाईयां दी हैं
    संतोष जी सोपान पर पहुंचायेंगे
    खूब आगे बढ़ायेंगे

    आपको चर्चा के समन्‍वयकारी
    चिट्ठे, माइक्रो ब्‍लॉगिंग, फेसबुक और ट्विटर के
    एक जगह लिंक खूब सुहायेंगे

    अभी अभी कुलवंत हैप्‍पी भी जुड़े हैं
    वह भी सार्थक चर्चा करने पर अड़े हैं
    हम तो सबको देख रहे हैं
    और मुग्‍ध हैं
    आप अपनी मुग्‍धता 
    टिप्‍पणियों में जाहिर कीजिए

    मौका आपके लिए भी है
    कहिए और जुड़ जाइए। 

    11 टिप्‍पणियां:

    1. यूँ ही कुछ न कुछ चलते रहना चाहिए तभी तो twist आता है ज़माने में ..
      बहुत ही सुन्दर लाजवाब सामयिक प्रस्तुति ...

      उत्तर देंहटाएं
    2. टीम को ढेरों शुभकामनायें ।।

      उत्तर देंहटाएं
    3. टीम की फ़ोटुओं की डी.वी.डी. बनवा कर भी बेच लो...चार पैसे की कमाई भी हो जाएगी (बतर्ज़)

      उत्तर देंहटाएं
    4. काजल कुमार जी की सलाह सर-माथे पर...पहली बुकिंग तो करो !

      उत्तर देंहटाएं

    आपके आने के लिए धन्यवाद
    लिखें सदा बेबाकी से है फरियाद

     
    Copyright (c) 2009-2012. नुक्कड़ All Rights Reserved | Managed by: Shah Nawaz